ट्रेडिंग टूल्स

RSI क्या है

RSI क्या है

क्रिप्टो चार्ट को कैसे पढ़े?

जानिए चार्ट के आधार पर कैसे काम किया जाए, या उनसे मिलने वाले संकेतों को कैसे मुनाफे में बदला जाए

किसी ने भी जिसने क्रिप्टोकरेंसी में किसी भी तरह का निवेश किया है, वह जानता है कि क्रिप्टोकरेंसी का चार्ट रियल-टाइम में कितनी तेजी से लगातार बदलते रहता है। इस एसेट की विख्यात वोलैटिलिटी के कारण कीमतों में जो भारी उतार-चढ़ाव दिखता है, वह भले ही सांसे थमाने वाला हो, लेकिन अपेक्षाकृत कम ही लोग ऐसे हैं जो वास्तव में समझ पाते हैं कि क्रिप्टोकरेंसी चार्ट को कैसे पढ़ा जाए और उससे भी कम लोग इस बात को सच में समझ पाते हैं कि चार्ट के आधार पर कैसे काम किया जाए, या उनसे मिलने वाले संकेतों को कैसे मुनाफे में बदला जाए।

चार्ट क्या है?

संबंधित खबरें

Delhivery Share Price: क्या इससे दूर रहना चाहिए ?

Zomato और Policybazaar में Info Edge 15 गुना मुनाफे में, लेकिन कंपनी इन कारणों से बुक नहीं कर रही प्रॉफिट

Crude Oil- क्रूड पर कोरोना की मार, 1 रात में करीब 4% लुढ़का ब्रेंट का भाव

जो लोग ट्रेडिंग में नए हैं, उनके लिए क्रिप्टो चार्ट लाइन और कैंडलस्टिक पैटर्न का एक ऐसा समूह हैं जो क्रिप्टोकरेंसी का ऐतिहासिक प्राइस परफॉर्मेंस दिखाते हैं। ये RSI क्या है बाजार की परिस्थितियों में होने वाले बदलावों और भविष्य के रुझानों का अनुमान लगाने में आपकी मदद कर सकते हैं, जिससे आपको निवेश के बेहतर फैसले लेने में मदद मिल सके।

यह एक स्नैपशॉट है, सेकेंड से लेकर मिनट, दिन, हफ्ते, महीने और यहां तक कि साल और उससे भी ज्यादा समय के दौरान हुए ऐतिहासिक और मौजूदा प्राइस मूमेंट का। क्रिप्टो चार्ट अप्रशिक्षित आंखों के लिए काफी जटिल मालूम पड़ सकते हैं, इसलिए बेहतर यही होगा कि इसके मूलभूत सिद्धांतों को समझ लिया जाए।

क्रिप्टोकरेंसी चार्ट ट्रेडिंग पेयर, अवधि और ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म का संकेत करते हैं। अमूमन, चार्ट हर समयावधि में खुलने, बंद होने, उस दौरान छुए गये सबसे ऊंचे और सबसे नीचे के भाव की जानकारी देते हैं। चार्ट के सबसे नीचे और बगल में तारीख और कीमतों में होने वाली वृद्धि दर्शाई जाती है।

चार्ट के आधार पर, वॉल्यूम या मूविंग एवरेज जैसे टेक्निकल संकेत दिखने लग जाएंगे और हर ट्रेडिंग सत्र के खुलने और बंद होने के साथ आगे बढ़ेंगे।

जापानी कैंडलस्टिक चार्ट

जापानी कैंडलस्टिक चार्ट (नीचे की दूसरी तस्वीर में दाईं ओर दिखने वाला) लाइन चार्ट के बाद दूसरा सबसे ज्यादा इस्तेमाल होने वाला चार्ट है। विश्लेषक आमतौर पर जापानी कैंडलस्टिक को बेहतर मानते हैं क्योंकि इसमें कई अतिरिक्त आंकड़े भी दिखते हैं।

कैंडल आम तौर पर दो रंगों में दिखते हैं, लाल और हरा।

जब किसी कैंडल का रंग लाल होता है तो इसका मतलब होता है कि आलोच्य समयावधि में बंद होने का भाव खुलने RSI क्या है के भाव से नीचे था। इसका मतलब उस समय के दौरान उस एसेट की कीमत में गिरावट आई।

जब कोई कैंडल हरा हो जाता है, तो इसका मतलब है कि उसके बंद होने का भाव खुलने की तुलना में ज्यादा था। नीचे की तस्वीर इसे प्रदर्शित कर रही है:

उदाहरण के लिए, हर कैंडल के खुलने, उच्चतम स्तर, निम्नतम स्तर और बंद होने से अतिरिक्त जानकारियां मिल सकती हैं। यदि कैंडल के दौरान भाव खुलने या बंद होने की सीमा से परे जाते हैं, तो एक शैडो या कैंडल “विक” रह जाता है।

इन कैंडलस्टिक के आकार, स्वरूप, अवधि और रंग तथा जो पैटर्न ये बनाते हैं, उनसे विश्लेषकों, खरीदारों और ट्रेडरों को भाव के भविष्य की चाल का अंदाजा मिल जाता है, जिससे उन्हें संभावना के आधार पर अपनी पोजीशन बदलने या नई पोजीशन लेने की सहूलियत मिल जाती है।

जापानी कैंडलस्टिक एक अकेले कैंडल से कई सारी सूचनाएं देने में समर्थ है। फिर भी, जब एक खास तरह के कैंडल विशेष क्रम में आते हैं, तब ये भविष्य में कीमतों की चाल के बारे में एक सटीक अनुमान दे सकते हैं।

इन्हें मोटे तौर पर दो श्रेणियों में बांटा जाता है:

1. बुलिश रिवर्सल पैटर्न

2. बियरिश रिवर्सल पैटर्न

कुछ सबसे महत्वपूर्ण और प्रभावशाली बुलिश रिवर्सल पैटर्न निम्नांकित हैं।

हैमर कैंडल पैटर्न

एक “बुलिश हैमर” ऐसा रिवर्सल पैटर्न होता है जो आम तौर पर गिरावट के रुझान में बॉटम पर बनता है। इसमें कैंडल का बॉडी हैमर के प्रहार वाले हिस्से को इंगित करता है, जबकि उनका लंबा बॉटम विक हैमर का हत्था दर्शाता है।

हरे रंग का हैमर लाल रंग के हैमर से ज्यादा प्रभावशाली होता है, लेकिन जैसा कि 2015 में बिटकॉइन के बॉटम के उदाहरण से दिखता है कि लाल रंग का हैमर भी अपनी तरह से शक्तिशाली संकेत हो सकता है। यह पैटर्न दिखाता है कि किस तरह बिकवालों ने पूरी ताकत से कीमत को नीचे धकेला, लेकिन खरीदारों ने भी उन्हें कड़ी टक्कर दी और आखिरकार उन्हें खरीदारी की ताकत से परास्त कर दिया। इस पैटर्न के वैध होने के लिए आवश्यक है कि इसके बाद तेजी का रुझान बने।

बुलिश एनगल्पफिंग कैंडल पैटर्न

एक बुलिश एनगल्फिंग कैंडल एक ऐसा रिवर्सल पैटर्न है जिसमें एक हरा कैंडल बॉडी पिछले दिन के कैंडल बॉडी को पूरी तरह निगल जाता है। इससे संकेत मिलता है कि बिकवाल थक गये हैं और खरीदार कहीं ज्यादा जोश से कूद पड़े हैं, जिसके कारण अब रुझान पलटने वाला है। उदाहरण के लिए, नीचे के चार्ट में बुलिश एनगल्फिंग आने वाली तेजी का एक संकेत है।

मॉर्निंग स्टार कैंडल पैटर्न

एक मॉर्निंग स्टार कैंडल तब बनता है जब पहले तो गिरावट के रुझान के बाद बॉटम पर एक दोजी का निर्माण होता है और फिर उसके बाद एक मजबूत तेजी का दौर शुरू हो जाता है। एक दोजी में कैंडल बॉडी या तो बहुत छोटा होता है या फिर नहीं होता है और छोटे विक्स या शैडो होते हैं। यह बिकवाली का मजबूत रुझान दर्शाता है, जिसमें धीरे-धीरे बिकवाल हिचकिचाने लगते हैं और फिर आखिरकार यह ट्रेंड पलट जाता है।

बियरिश रिवर्सल पैटर्न

हर तेजी के पैटर्न के बाद एक मंदी का पैटर्न भी होता है। इस तरह के पैटर्न पलटने से पहले किसी तेजी के बिलकुल शीर्ष पर उभरते हैं। कुछ सबसे आम लेकिन मजबूत बियरिश रिवर्सल पैटर्न निम्नांकित हैं।

शूटिंग स्टार कैंडल पैटर्न

शूटिंग स्टार कैंडल पैटर्न में एक कैंडल होता है, जिसमें ऊपर की ओर एक लंबा शैडो होता है। उसकी बॉडी छोटी होती है और नीचे या तो कोई शैडो नहीं होता या फिर छोटा शैडो होता है। यह तेजी के रुझान के शीर्ष पर उभरता है और उसके बाद बाजार की दिशा पलट जाती है।

यह कैंडल खरीदारों की ओर से लगाई गई पूरी ताकत दर्शाता है, जिसे जबर्दस्त प्रतिरोध का सामना करना पड़ता है और इसी कारण ऊपर की ओर एक लंबा शैडो छूटता है।

Share Market Divergence क्या होता है

Share Market Divergence का मतलब होता है, जब हम किसी Stock का Analysis कर रहे होते है, Indicator के द्वारा तब जब दो Indicator मिल कर कोई Conformation नहीं देता, यानी एक आपको शेयर में गिरावट का संकेत दे और एक तेज़ी का तब हम उसको Divergence कहते है!

शेयर मार्केट में किसी भी चीज़ की चाल निश्चित नहीं होता है आप किसी भी Idicator या System का उपयोग कर ले वह हर समय सही Result दे ऐसा जरुरी नहीं है, इसलिए हम किसी भी शेयर को खरीदने या बेचने से पहले हम बहुत से Tool का उपयोग करते है ताकि हमरा गलत होने की संभावना कम से कम हो ! जैसे आप किसी शेयर का एनालिसिस कर रहे हैं और एक इंडिकेटर उस शेयर को खरीदारी की राय देता है जबकि दूसरा इंडिकेटर उसे बेचने की तब इसी को ही हम Divergence कहते है!

आमतौर पर आपने देखा होगा की कोई शेयर अपने Uptrend में है, शेयर अपने High के ऊपर High बंद हो रहा है, लेकिन Indicator जैसे MACD, RSI, Band, etc Downtrent में होता है य़ह Share Market Divergence के कारण होता है!

Types of Stock Divergence in Hindi

Positive Divergence:- जब शेयर ( प्राइस ) में गिरावट हो रही है और इससे जुड़ा हुआ जो इंडिकेटर है वह ऊपर की ओर जा रहा हो तब हम इसे Positive Divergence कहते है, इसमें आपको शेयर में खरीदारी करनी होती है!

Negative Divergence:- जब शेयर ऊपर की और जा रहा हो और इससे जुड़ा हुआ जो इंडिकेटर नीचे की तरफ यानी उसमे गिरावट आ रही है तब हम इसे Negative Divergence कहते हैं इसमें आपको शेयर में मंदी करनी होती है !

Share Market Divergence क्यों होता है

जब कोई शेयर ट्रेंड में है तेज़ी या मंदी की ओर एक समय ऐसा आता है जब उसका Trend कमजोर होने लगता है ऐसे में उससे जुड़े हुए जो इंडिकेटर है वह इस बात का संकेत करते हैं लेकिन जब हम इसी के साथ कोई दूसरा इंडिकेटर उपयोग करते हैं जो कि Trend पर आधारित नहीं होता या वह Trend मे हुए इस बदलाव की गणना नहीं कर पाता जैसे Price Action, ADX तब हमें चार्ट में Divergence देखने को मिलता है !

Stock Market Divergence, Stock divergene kya hota hai, divergence in hindi, Stok Divergence Trading,
Stock Divergence

Stock Market Divergence Trading

जब आपको किसी शेयर में Divergence नजर आए तो केवल इसी के आधार पर आप किसी शेयर को खरीदने या बेचने का फैसला नहीं करते आपको इसके साथ और भी दूसरे Indicator या Signal का इंतजार करना चाहिए और उसके बाद ही किसी शेयर को खरीदने या बेचने का फैसला करना चाहिए ! आप केवल इसी के आधार पर Trading नहीं करना चाहिए, किसी शेयर में Divergence का मतलब है कि शेयर की चाल अब कमजोर हो रही है और इसमे Correction आने की संभावना है!

क्या है टेक्निकल और फंडामेंटल एनालिसिस? शेयर बाजार में पैसा कमाने के लिए जरूरी है ये ज्ञान, जानें इसे कैसे सीखें

शेयर बाजार में निवेश के लिए जरूरी है टेक्निकल और फंडामेंटल एनालिसिस की समझ

टेक्निकल और फंडामेंटल एनालिसिस में किसी भी शेयर या कंपनी के पिछले और वर्तमान प्रदर्शन के आधार पर भविष्य की संभावना का अंदाजा लगाया जाता है. इसके लिए कई तरह के टूल्स और जरूरी पहलुओं का अध्ययन किया जाता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated : November 03, 2022, 11:42 IST

हाइलाइट्स

टेक्निकल एनालिसिस में इंडिकेटर के जरिए स्टॉक के प्राइस की मूवमेंट का अंदाजा लगाया जाता है.
फंडामेंटल एनालिसिस में किसी भी कंपनी के बिजनेस मॉडल और ग्रोथ स्टोरी का अध्ययन किया जाता है.
टेक्निकल और फंडामेंटल एनालिसिस सीखने के लिए कई बुक, कोर्स और ऑनलाइन कंटेंट उपलब्ध है.

नई दिल्ली. शेयर मार्केट में निवेश करने से पहले इसकी पर्याप्त समझ होनी चाहिए. किसी भी स्टॉक को खरीदने के लिए उसके बारे में अच्छे से अध्ययन करना होता है और यह दो तरीकों टेक्निकल और फंडामेंटल एनालिसिस के जरिए किया जाता है. लेकिन, आम निवेशक को इसके बारे में ज्यादा समझ नहीं होती है लेकिन बाजार में सक्रिय रूप से काम करने वाले निवेशक और मार्केट एक्सपर्ट्स इसकी गहरी समझ रखते हैं. हालांकि, टेक्निकल और फंडामेंटल एनालिसिस की समझ विकसित करना ज्यादा मुश्किल नहीं है.

आइये जानते हैं कि आखिर टेक्निकल और फंटामेंटल एनालिसिस क्या है और कैसे इसके बारे में समझ विकसित करके शेयर बाजार में सक्रिय निवेशक के तौर पर काम किया जा सकता है. इन दोनों तरीकों से आप शेयर की कीमत का सही अनुमान और भविष्य से जुड़ी संभावनाओं के बारे में पता लगा सकते हैं, साथ ही स्टॉक कब खरीदें और कब बेचें, यह निर्णय लेने में भी आपको मदद मिलेगी.

क्या है टेक्निकल एनालिसिस?

टेक्निकल एनालिसिस में किसी भी शेयर के चार्ट को देखकर उसकी डेली, वीकली और मंथली मूवमेंट और प्राइस के बारे में जानकारी हासिल की जाती है. चार्ट के जरिए सबसे शेयर के सपोर्ट और रेजिस्टेंस देखा जाता है. यहां सपोर्ट से मतलब है कि स्टॉक कितनी बार किसी एक खास भाव से ऊपर की ओर गया है. ज्यादातर एनालिस्ट सपोर्ट लेवल पर ही खरीदी की सलाह देते हैं.

वहीं, रेजिस्टेंस का मतलब है कि कोई स्टॉक कितनी बार किसी एक भाव से फिर से नीचे की ओर लौटकर आया है. अगर कोई शेयर अपने रेजिस्टेंस को तोड़कर ऊपर की ओर जाता है तो इसे ब्रेकआउट कहते हैं यानी कि अब शेयर का भाव और बढ़ेगा. इसके विपरीत, यदि स्टॉक सपोर्ट लेवल को तोड़ देता है तो उसके नीचे जाने की संभावना ज्यादा रहती है.

टेक्निकल एनालिसिस में अहम इंडिकेटर
टेक्निकल एनालिसिस में इंडिकेटर अहम टूल्स होते हैं. दरअसल ये शेयर की मूवमेंट को लेकर अहम संकेत देते हैं. इनमें मूविंग एवरेज, RSI, MACD, सुपर ट्रेंड और बोलिंजर बैंड समेत कई इंडिकेटर्स शामिल हैं. हर इंडिकेटर का अपना महत्व है लेकिन शेयर बाजार में सक्रिय ज्यादातर निवेशक मूविंग एवरेज, MACD और RSI इंडिकेटर को अहम मानते हैं.

मूविंग एवरेज इंडिकेटर के जरिए किसी भी स्टॉक के पिछले 5, 10, 20, 50, 100 और 200 दिन के एवरेज प्राइस का अध्ययन किया जाता है. अलग-अलग टाइम फ्रेम पर स्टॉक के भाव में बढ़त और गिरावट से तेजी व मंदी का अनुमान लगाया जाता है. वहीं, RSI यानी रिलेटिव स्ट्रेंथ इंडेक्स एक ग्राफ के जरिए यह प्रदर्शित करता है कि शेयर में कितनी खरीदारी और बिकवाली हावी है.

फंडामेंटल एनालिसिस क्यों जरूरी?
फंडामेंटल एनालिसिस में किसी भी कंपनी के बिजनेस मॉडल और ग्रोथ स्टोरी का अध्ययन किया जाता है. इसमें मुख्य रूप से कंपनी के फाइनेंशियल्स यानी आर्थिक आंकड़ों पर नजर डाली जाती है. इनमें P/E Ratio और P/B Ratio जैसे रेशियो को देखा जाता है. अगर प्राइस अर्निंग रेशियो की वैल्यू कम है तो इसका मतलब है कि इसमें ग्रोथ की काफी गुंजाइश है. वहीं, प्राइस टू बुक वैल्यू रेशियो कम है तो इसका मतलब हुआ कि स्टॉक अंडरवैल्यूड है.

फंडामेंटल एनालिसिस में कम्पनी की सम्पत्तियों तथा देनदारियों की अध्ययन करके कम्पनी की नेट वैल्यू निकाली जाती है. इसके आधार पर कम्पनी के स्टॉक की कीमत का अनुमान लगाया जाता है. इसमें कम्पनी की डिविडेंड पॉलिसी भी देखी जाती है. इस तरह की स्टडी से अंडरवैल्यूड कंपनियों के बारे में पता लगाया जा सकता है जिनके भविष्य में बेहतर प्रदर्शन करने की संभावना होती है.

कैसे सीखें टेक्निकल और फंडामेंटल एनालिसिस
टेक्निकल और फंडामेंटल एनालिसिस के बारे RSI क्या है में जानने के बाद अब सवाल उठता है कि यह ज्ञान कहां से लिया या सीखा जाए. टेक्निकल और फंडामेंटल एनालिसिस के लिए कई बुक्स और इंटरनेट पर ऑनलाइन कंटेंट उपलब्ध है.

इसके अलावा आप नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ सिक्योरिटी मार्केट (NISM) के जरिए शेयर मार्केट में बतौर रजिस्टर्ड इन्वेस्टमेंट एडवाइज के तौर पर काम करने के लिए कई कोर्सेस ज्वाइन कर सकते हैं. इनमें टेक्निकल और फंडामेंटल एनालिसिस से जुड़े विषयों को कवर किया जाता है.

ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी| आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट News18 हिंदी|

ARCpoint Inc (ARC)

ARCpoint शेयर (ARC शेयर) (ISIN: CA03966D1078) के बारे में। आप इस पृष्ठ के अनुभागों में से किसी एक में जा कर ऐतिहासिक डेटा, चार्ट्स, तकनीकी विश्लेषण तथा अन्य के बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

ARCpoint Inc कंपनी प्रोफाइल

ARCpoint Inc कंपनी प्रोफाइल

  • प्रकार : इक्विटी
  • बाज़ार : कनाडा
  • आईसआईन : CA03966D1078
  • सीयुसआईपी : 03966D107

As of October 21, 2022, RSI International Systems Inc. was acquired by ARCPoint Group Inc., in a reverse merger transaction. RSI International Systems Inc. does not have significant operations. Previously, it provided an integrated Web-based real-time reservation and property management system for the hotel and resort industries. The RSI क्या है company is headquartered in Vancouver, Canada.

आय विवरण

तकनीकी सारांश

ट्रेंडिंग शेयर

ट्रेंडिंग शेयर

ARC टिप्पणियाँ

जोखिम प्रकटीकरण: वित्तीय उपकरण एवं/या क्रिप्टो करेंसी में ट्रेडिंग में आपके निवेश की राशि के कुछ, या सभी को खोने का जोखिम शामिल है, और सभी निवेशकों के लिए उपयुक्त नहीं हो सकता है। क्रिप्टो करेंसी की कीमत काफी अस्थिर होती है एवं वित्तीय, नियामक या राजनैतिक घटनाओं जैसे बाहरी कारकों से प्रभावित हो सकती है। मार्जिन पर ट्रेडिंग से वित्तीय जोखिम में वृद्धि होती है।
वित्तीय उपकरण या क्रिप्टो करेंसी में ट्रेड करने का निर्णय लेने से पहले आपको वित्तीय बाज़ारों में ट्रेडिंग से जुड़े जोखिमों एवं खर्चों की पूरी जानकारी होनी चाहिए, आपको अपने निवेश लक्ष्यों, अनुभव के स्तर एवं जोखिम के परिमाण पर सावधानी से विचार करना चाहिए, एवं जहां आवश्यकता हो वहाँ पेशेवर सलाह लेनी चाहिए।
फ्यूज़न मीडिया आपको याद दिलाना चाहता है कि इस वेबसाइट में मौजूद डेटा पूर्ण रूप से रियल टाइम एवं सटीक नहीं है। वेबसाइट पर मौजूद डेटा और मूल्य पूर्ण रूप से किसी बाज़ार या एक्सचेंज द्वारा नहीं दिए गए हैं, बल्कि बाज़ार निर्माताओं द्वारा भी दिए गए हो सकते हैं, एवं अतः कीमतों का सटीक ना होना एवं किसी भी बाज़ार में असल कीमत से भिन्न होने का अर्थ है कि कीमतें परिचायक हैं एवं ट्रेडिंग उद्देश्यों के लिए उपयुक्त नहीं है। फ्यूज़न मीडिया एवं इस वेबसाइट में दिए गए डेटा का कोई भी प्रदाता आपकी ट्रेडिंग के फलस्वरूप हुए RSI क्या है RSI क्या है नुकसान या हानि, अथवा इस वेबसाइट में दी गयी जानकारी पर आपके विश्वास के लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं होगा।
फ्यूज़न मीडिया एवं/या डेटा प्रदाता की स्पष्ट पूर्व लिखित अनुमति के बिना इस वेबसाइट में मौजूद डेटा का प्रयोग, संचय, पुनरुत्पादन, प्रदर्शन, संशोधन, प्रेषण या वितरण करना निषिद्ध है। सभी बौद्धिक संपत्ति अधिकार प्रदाताओं एवं/या इस वेबसाइट में मौजूद डेटा प्रदान करने वाले एक्सचेंज द्वारा आरक्षित हैं।
फ्यूज़न मीडिया को विज्ञापनों या विज्ञापनदाताओं के साथ हुई आपकी बातचीत के आधार पर वेबसाइट पर आने वाले विज्ञापनों के लिए मुआवज़ा दिया जा सकता है। इस समझौते का अंग्रेजी संस्करण मुख्य संस्करण है, जो अंग्रेजी संस्करण और हिंदी संस्करण के बीच विसंगति होने पर प्रभावी होता है।

RSI Full Form In Police Department में क्या होता है?

RSI Full Form In Police Department में क्या होता है?

RSI Full Form In Police Department में क्या होता है?

The RSI Full Form In Police Department is Reserve Sub Inspector in Police positions.

RSI belongs to Armed category of State Police, RSI is usually posted in Armed reserve and special armed units of district and city. RSI don’t have direct interaction with the public.

RSI are trained on laws relates to Armed reserve category and more on weapon training and handling.

How To Become An RSI Officer In Police?

दोस्तों यहाँ पर आज हम आपको वय बताएंगे कि RSI Officer बनाने क्या क्या योग्यता चाहिए होती है।

Qualification Requirements To Become An RSI Officer?

The eligible candidates are required to fill in the application form before the last date approaches. The candidates will be selected on the basis of a written test, Physical Endurance as well as a endurance test conducted by the selection body for the various seats .

Educational Qualification Requirements To Become An RSI Officer?

Police Sub Inspector (Civil): Any degree from University recognised by UGC or Equivalent

Armed Reserve Sub-Inspector of Police (RSI): Any degree from University recognised by UGC or Equivalent

Age Limit Required To Become An RSI Officer?

The candidate must be between the age of 21 to 28 years. The RSI क्या है limit relaxation on age for certain categories are:

  • SC/ST candidates: 5 years
  • OBC candidates: 3 years
  • Persons with disability: 10 years (PWD+OBC= 13 years; PWD+SC/ST= 15 years)
  • The candidates need to fill their application before the last date, in the prescribed format. No other form of submitting the form will be accepted.
  • The candidates are also required to pay a fee at a State Bank of India (SBI) branch or a Post office only. The fee is Rs 250 for general category candidates while Rs 100 for students from SC and ST category.

RSI Police Officer कि Salary कितनी होती है?

The Reserve Sub-Inspector of Police (RSI): Rs 37,900 to Rs 70,850

What Is The Difference Between PSI Officer And RSI Officer?

  1. PSI belongs to civil category of State Police, He will be posted in all unarmed units of the State police. And RSI RSI belongs to Armed category of State Police.
  2. Primarily PSI is posted in local police stations and have direct interaction with the public. And RSI is usually posted in Armed reserve and special armed units of district and city.
  3. PSI is direct incharge of the law and order of his jurisdiction. And RSI don’t have direct interaction with the public.
  4. The main Primary difference between PSI and RSI is, PSI are trained for handling situations using IPC, CrPC and IEA etc.
  5. Workload is bit high for PSI compared to RSI.

FAQS For RSI Full Form In Police Department

What Is RSI In Police?

RSI Meaning Is Reserve Sub Inspector.

RSI Officer कि Salary कितनी RSI क्या है होती है?

The Reserve Sub-Inspector of Police (RSI): Rs 37,900 to Rs 70,850.

What Is The Full Form Of RSI In Police Department?

The Full Form Of RSI In Police Department is Reserve Sub Inspector.

आप इस Video के जरिए भी RSI Ka Full Form जान सकते हैं।

Conclusion For RSI Full Form In Police Department

दोस्तों आशा करते हैं कि अपको RSI Full Form In Police Department पता लग गया होगा कि What is the Full Form Of RSI? क्या होता है।

दोस्तों अगर आपको अभी भी कोई समस्या है तो आप हमें comment box के जरिए पुंछ सकते हैं।

रेटिंग: 4.64
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 166
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *